Photos

  • Add Photos
  • View All

Videos

  • Add Videos
  • View All

कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

लहरों से डर कर नौका पार नहीं होती,
कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

नन्हीं चींटी जब दाना लेकर चलती है,
चढ़ती दीवारों पर, सौ बार फिसलती है।
मन का विश्वास रगों में साहस भरता है,
चढ़कर गिरना, गिरकर चढ़ना न अखरता है।
आख़िर उसकी मेहनत बेकार नहीं होती,
कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

डुबकियां सिंधु में गोताखोर लगाता है,
जा जा कर खाली हाथ लौटकर आता है।
मिलते नहीं सहज ही मोती गहरे पानी में,
बढ़ता दुगना उत्साह इसी हैरानी में।
मुट्ठी उसकी खाली हर बार नहीं होती,
कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

असफलता एक चुनौती है, इसे स्वीकार करो,
क्या कमी रह गई, देखो और सुधार करो।
जब तक न सफल हो, नींद चैन को त्यागो तुम,
संघर्ष का मैदान छोड़ कर मत भागो तुम।
कुछ किये बिना ही जय जय कार नहीं होती,
कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

Views: 1035

Reply to This

Replies to This Forum

Dear Sir

 my thinking is same , i like this poem very much.

Bijender Kumar

a great motivational poem for all. thanks.

Great inspirational poem................

 This is very inspiring poem and motivate everyone. Thanks for sharing.

दिल को छूने वाली कविता की पंक्तिया .

Interesting.....

Inspiring lines

This poem is too much inspiring

By read this poem ,i miss the school days when my teachers always sang it and provide all the students motivarion for the success ..

WOW! Really wonderful.  I would like to know who the poet is? Can anyone?

Thanks

poem by dr. harivansh rai bachhan

Great inspirational thinking

                                       I like it.

 

nice and motivational poem....

RSS

© 2019   Created by Badan Barman.   Powered by

Badges  |  Report an Issue  |  Terms of Service